वक़्त के कुछ पल

कुछ लम्हे ऐसे जो दिल को छू जाए,कुछ बातें ऐसी जो रूह को जगाये.वो उगता सूरज, वो ढलती शामजो मुझे पुकार कर दे गयी कई बैगाम. वो रेल की रफ़्तार, वो पटरी की सरसराहटवो बहार का सन्नाटा, जिससे मंसूख कर रही अंदर के शोर की आहात. उस पल में कुछ ऐसा हो गया,न चाहते हुए […]

Continue Reading